पिछले साल मिल रहा था 10 लाख तक का कैश डिस्काउंट, इस फेस्टिव सीजन में नहीं मिलेगी कोई बड़ी छूट, जानिए क्या ऑफर दे रही हैं लग्जरी कार कंपनियां - ucnews.in

सोमवार, 5 अक्तूबर 2020

पिछले साल मिल रहा था 10 लाख तक का कैश डिस्काउंट, इस फेस्टिव सीजन में नहीं मिलेगी कोई बड़ी छूट, जानिए क्या ऑफर दे रही हैं लग्जरी कार कंपनियां

कोविड -19 के कारण महीनों के संघर्ष के बाद, घरेलू लग्जरी कार बाजार में कुछ रिकवरी देखने को मिली है और इस फेस्टिव सीजन के दौरान बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है। हालांकि, इस साल लग्जरी कारों पर कोई बड़ा ऑफर या डिस्काउंट नहीं होगा बल्कि कंपनियों ने खुद को आकर्षक फाइनेंस स्कीम और कॉम्पलीमेंट्री इंश्योरेंस तक सीमित कर लिया है ताकि शोरूम पर पर्याप्त संख्या में ग्राहक पहुंचे।

मर्सिडीज ने शुरू की 'अनलॉक विद मर्सिडीज-बेंज' कैंपेन
उदाहरण के लिए, मार्केट लीडर मर्सिडीज-बेंज इंडिया ने सितंबर से शुरू होने वाले फेस्टिव सीजन के लिए 'अनलॉक विद मर्सिडीज-बेंज' कैंपेन शुरू किया और इसे अच्छा रिस्पॉन्स भी मिला है। 'मर्सिडीज-बेंज इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर मार्टिन श्वेनक ने कहा, अनलॉक कैंपेन में सी-क्लास, ई-क्लास और जीएलसी के लिए आकर्षक फाइनेंस स्कीम्स हैं, जिसमें लो ईएमआई, आकर्षक ROI (रिटर्न ऑन इंवेस्टमेंट) और कॉम्पलीमेंट्री इंश्योरेंस शामिल हैं। उन्होंने यह भी कहा कि इस साल का फेस्टिव सीजन काफी चुनौतीपूर्ण होगा, लेकिन पिछले साल की तरह यह भी सफल रहेगा।

ऑडी को नई लॉन्चिंग से काफी उम्मीदें

  • ऑडी को भी कुछ नए प्रोडक्ट लॉन्च के साथ इस फेस्टिव सीजन सफल रहने की उम्मीद है। ऑडी इंडिया के प्रमुख बलबीर सिंह ढिल्लन ने कहा, 'हमने पिछले महीनों के दौरान कुछ बेहतरीन प्रोडक्ट्स लॉन्च किए हैं और अपने संभावित ग्राहकों को खुश करने के लिए हम ऑडी Q2 भी भारत में लाए हैं।'
  • उन्होंने कहा कि ग्राहकों के लिए इस फेस्टिव सीजन का मुख्य आकर्षण A6, A8L, Q8, RS7 स्पोर्टबैक और RS Q8 होगा और न केवल ब्रांड की नई कारें, बल्कि ऑडी इंडिया को उम्मीद है कि यूज्ड कार बिजनेस का कारोबार भी इस फेस्टिव सीजन काफी अच्छा रहेगा।
  • इसके अलावा, मौजूदा ग्राहकों के लिए, हम विशेष लॉयल्टी और एक्सचेंज प्रोग्राम्स के माध्यम से री-पर्चेस और अपग्रेड को आसान बना रहे हैं। हमने ऐसे ग्राहकों के लिए लो-कॉस्ट ईएमआई प्रदान करने वाले बैंकों के साथ समझौता किया है जो हमारे ऑडी एप्रूव्ड प्लस डीलरशिप के माध्यम से यूज्ड कार खरीदना चाहते हैं। ढिल्लन ने कहा कि सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि डॉक्टर्स और कोविड योद्धाओं को धन्यवाद देने के लिए नई कार की खरीदी पर उन्हें खास सुविधाएं दे रहे हैं।

कंपनियों का फोक्स वॉल्यूम की बजाए प्रॉफिट पर ज्यादा-एनालिस्ट

  • एनालिस्ट के मुताबिक, भले ही ये प्रीमियम कार निर्माता फेस्टिव सीजन के दौरान ऑफर दे रहे हों, लेकिन पिछले साल की तुलना में ये बहुत कम हैं। पिछले साल ऑफर 10 लाख तक के कैश डिस्काउंट के स्तर तक पहुंच गया था क्योंकि बीएस-6 की ओर बदलाव हो रहा था और डीलर बीएस-4 वाहनों का स्टॉक खत्म करना चाहते थे।
  • IHS मार्किट के एसोसिएट डायरेक्टर, पुनीत गुप्ता ने कहा कि 'पिछले साल बीएस-4 स्टॉक को खत्म करने के लिए सितंबर और नवंबर के बीच प्रीमियम कारों पर छूट का स्तर काफी अधिक था। लेकिन इस साल महामारी के दौरान डिस्काउंट ज्यादा नहीं है क्योंकि कंपनियां इस बार मुनाफे कमाने के बारे में सोच रही है न कि वॉल्यूम के बारे में। उन्होंने कहा कि इस साल लग्जरी कारों की बिक्री 20,000 यूनिट से भी कम रहने की उम्मीद है, जिसका मतलब है पिछले साल की संख्या की तुलना में आधे से अधिक गिरावट।

कीमतों में बढ़ोतरी भी बड़ी वजह
कार निर्माताओं ने हाल ही में इस महीने और नवंबर से कीमतों में बढ़ोतरी की घोषणा की है। मर्सिडीज-बेंज इंडिया ने इस महीने से चुनिंदा मॉडलों पर दो प्रतिशत की कीमतों में बढ़ोतरी की घोषणा की थी वहीं, बीएमडब्ल्यू इंडिया ने कहा कि वह बढ़ती लागत और करेंसी के मूल्य में गिरावट की वजह से 1 नवंबर से अपनी कारों की कीमतों में तीन प्रतिशत तक की बढ़ोतरी करेगी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
IHS मार्किट के एसोसिएट डायरेक्टर, पुनीत गुप्ता ने कहा कि- इस साल लग्जरी कारों की बिक्री 20,000 यूनिट से भी कम रहने की उम्मीद है, यानी पिछले साल की संख्या की तुलना में आधे से अधिक गिरावट।


from Dainik Bhaskar
via

Share with your friends

Add your opinion
Disqus comments
Notification
This is just an example, you can fill it later with your own note.
Done