सुशांत केस में एम्स की तरफ से मर्डर थ्योरी खारिज होने के बाद स्वरा ने की रिया की रिहाई की मांग, 27 दिन से भायखला जेल में है एक्ट्रेस - ucnews.in

सोमवार, 5 अक्तूबर 2020

सुशांत केस में एम्स की तरफ से मर्डर थ्योरी खारिज होने के बाद स्वरा ने की रिया की रिहाई की मांग, 27 दिन से भायखला जेल में है एक्ट्रेस

स्वरा भास्कर ने रिया चक्रवर्ती को रिहा किए जाने की मांग की है। स्वरा का कहना है कि सुशांत सिंह राजपूत के केस में एम्स की रिपोर्ट ने मर्डर थ्योरी को खारिज कर दिया है, अब रिया को रिहा किया जाना चाहिए। रिया को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने ड्रग मामले में पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया था। रिया पर सुशांत के लिए ड्रग्स लाने का आरोप है। रिया 9 सितंबर से ही भायखला जेल में हैं।

अधीर रंजन की मांग का समर्थन

स्वरा ने लोकसभा में कांग्रेस नेता अधीर रंजन की मांग का समर्थन करते हुए ट्वीट किया- वेलडन सर। स्वरा ने हैश टैग रिलीज रिया चक्रवर्ती का इस्तेमाल कर एक्ट्रेस का सपोर्ट किया है। एम्स की टीम को सुशांत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट दोबारा जांच करने को कहा गया था।

मीडिया ट्रायल पर भी कसा था तंज

इसके पहले स्वरा ने रिया की गिरफ्तारी से पहले मीडिया में दिखाई जा रही खबरों को लेकर भी तंज कसा था। स्वरा ने इसे विच हंट कहा था। 6 सितंबर को किए अपने एक ट्वीट में उन्होंने लिखा था- भारत अपने सबसे निचले स्तर के शर्मनाक विच हंट का गवाह बना है। ये सबसे घृणास्पद है।

21 अगस्त को एम्स की टीम बनाई गई

सुशांत की ऑटोप्सी रिपोर्ट की जांच के लिए 21 अगस्त को डॉ. सुधीर गुप्ता की लीडरशिप में एम्स के पांच डॉक्टर्स की टीम बनाई गई थी। इसने 28 सितंबर को अपनी रिपोर्ट सीबीआई को सौंपी थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, टीम को विसरा में किसी तरह का जहर नहीं मिला। डॉ. सुधीर गुप्ता ने कहा, 'यह क्लियर कट खुदकुशी का मामला है। सुशांत का मर्डर नहीं हुआ था।'

हालांकि इसके पहले एम्स की रिपोर्ट में सुशांत की बॉडी का पोस्टमॉर्टम करने वाले मुंबई के कूपर हॉस्पिटल के डॉक्टर्स को क्लीन चिट नहीं दी गई थी। दरअसल, कूपर अस्पताल के डॉक्टर्स ने सुशांत की ऑटोप्सी की थी। बाद में इसके तरीके पर सवाल उठे थे। रिपोर्ट में मौत की टाइमिंग का भी जिक्र नहीं था।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Swara bhaskar once again made support to rhea chakraborty demanded to release her


from Dainik Bhaskar
via

Share with your friends

Add your opinion
Disqus comments
Notification
This is just an example, you can fill it later with your own note.
Done