घर तोड़ने वाली महिला नहीं बनना चाहती थीं आशा पारेख, इसलिए शादीशुदा नासिर हुसैन से शादी ना होने पर किसी और से भी नहीं की शादी - ucnews.in

शुक्रवार, 2 अक्तूबर 2020

घर तोड़ने वाली महिला नहीं बनना चाहती थीं आशा पारेख, इसलिए शादीशुदा नासिर हुसैन से शादी ना होने पर किसी और से भी नहीं की शादी

वेटरन एक्ट्रेस आशा पारेख 78 साल की हो गई हैं। 2 अक्टूबर, 1942 को जन्मी आशा ने बॉलीवुड की कई यादगार फिल्मों में काम किया लेकिन पर्सनल लाइफ की बात करें तो उन्होंने शादी नहीं की। फिल्म मेकर नासिर हुसैन के साथ उनके अफेयर ने सुर्खियां जरूर बटोरी थीं लेकिन दोनों का प्यार शादी तक नहीं पहुंच पाया। इसकी वजह क्या रही, इसका खुलासा उन्होंने खुद एक इंटरव्यू में किया था।

कभी नासिर हुसैन के प्यार में थीं आशा, इसलिए नहीं की शादी

फिल्म मेकर नासिर हुसैन के साथ आशा ने 'दिल देके देखो', 'तीसरी मंजिल' और 'कारवां' सहित 7 फिल्मों में साथ काम किया। आशा बताती हैं, "हां, नासिर साहब ही एकमात्र ऐसे मर्द थे जिनसे मैंने प्यार किया। मैं कभी भी घर तोड़ने वाली नहीं बनना चाहती थी। मेरे और नासिर साहब के परिवार के बीच कभी कोई अनबन नहीं हुई। मैं कभी हुसैन को उनके परिवार से अलग नहीं करना चाहती थीं, और इसी डर से मैंने शादी नहीं की।

नासिर की बात करें तो आशा से प्यार में पड़ने के दौरान वह शादीशुदा थे और दो बच्चों के पिता थे। उनका जिक्र आशा ने अपनी बायोग्राफी 'द हिट गर्ल' में भी किया था। यह बायोग्राफी खालिद मोहम्मद ने लिखी थी जो कि 2017 में पब्लिश की थी।

इस किताब की लॉन्चिंग पर आशा ने कहा था, मेरे जीवन में जो लोग मायने रखते हैं, अगर उनका जिक्र मैं अपनी आत्मकथा में ना करूं तो फिर इसे लिखने का कोई अर्थ ही नहीं है।

शायद ऊपरवाले ने मेरी जोड़ी नहीं बनाई

आशा ने आगे कहा था, "मेरा मानना है कि शादियां ऊपर से तय होती हैं और शायद इस मामले में भगवान मेरी जोड़ी बनाना ही भूल गए। मेरी शादी का संयोग ही नहीं था, इसलिए मेरी शादी नहीं हुई। मेरी मां चाहती थी कि मेरी शादी किसी तरह हो जाए।

शादी के लिए प्रपोजल आए थे, लेकिन कुछ जमा नहीं। मम्मी को किसी ने कहा था कि इसकी शादी मत करना। फिर भी उन्होंने बहुत कोशिश की, लेकिन वाकई में ऐसा ही हुआ। किसी ने प्रिडिक्ट किया था कि शादी करेंगे तो यह टिकेगी नहीं। मम्मी भी विश्वास नहीं करती थीं, इसलिए कहती थीं कि ऐसा नहीं हो सकता है। उन्होंने काफी कोशिश की थी कि मेरी शादी हो जाए, लेकिन नहीं हुई।

मेरा मानना था कि शादी होने से ज्यादा जरूरी है अच्छी शादी होना। सिर्फ शादी का टैग लगाने के लिए मैं शादी नहीं करना चाहती थी। मेरी इच्छा थी कि मैं शादी तभी करूं जब मुझे मेरा मनपसंद साथी मिले। ऐसा नहीं हुआ, इसलिए मैंने शादी नहीं की।"



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Asha Parekh birthday special: know interesting facts about her love story


from Dainik Bhaskar
via

Share with your friends

Add your opinion
Disqus comments
Notification
This is just an example, you can fill it later with your own note.
Done