विजय राज ने तोड़ी चुप्पी कहा- 23 साल का कॅरियर दांव पर है, रोज़ी-रोटी पर असर पड़ा तो क्या मैं विक्टिम नहीं - ucnews.in

शुक्रवार, 13 नवंबर 2020

विजय राज ने तोड़ी चुप्पी कहा- 23 साल का कॅरियर दांव पर है, रोज़ी-रोटी पर असर पड़ा तो क्या मैं विक्टिम नहीं

कौआ बिरयानी वाले 57 साल के विजय राज मुसीबत में हैं। पिछले दिनों शेरनी के सेट पर एक कलीग से छेड़छाड़ के आरोप में उन्हें गोंदिया में अरेस्ट किया गया था, बाद में जमानत मिल तो गई लेकिन अब उनका 23 साल का फिल्मी कॅरियर दांव पर है। आरोपों पर अपनी बात रखते हुए उन्होंने बताया कि किसी भी तरह की जांच से पहले ही आने वाली फिल्मों से निकाल देना हैरान करने वाला है।

मेरी भी 21 साल की बेटी है, गंभीरता जानता हूं
बॉम्बे टाइम्स को दिए एक इंटरव्यू में विजय राज ने पिछले दिनों खुद पर बीता हर लम्हा शेयर किया है। वे कहते हैं- वीमन सेफ्टी आज सबसे अहम है। मेरी अपनी 21 साल की बेटी है इसलिए मैं हालात की गंभीरता जानता हूं। मैं हर तरह की जांच के लिए तैयार हूं। मेरे पास शब्द नहीं हैं। यह हालात खतरनाक हैं। मैंने इंडस्ट्री को 23 साल दिए हैं। कॅरियर बनाने बहुत मेहनत की है। तिनका-तिनका जोड़कर घर बनाया है। क्या कोई भी किसी के कॅरियर को नुकसान पहुंचा सकता है? किसी ने बोल दिया और आपने मान लिया कि मैंने शोषण किया।

जांच से पहले ही आरोपी बना दिया मुझे-विजय
विजय आगे कहते हैं- सब दूसरे पक्ष की बात जाने बिना ही नतीजे निकाल लेते हैं। कोई फर्क नहीं पड़ता कि केस का फैसला क्या होता है। लेकिन तब तक आपके ऊपर एक ठप्पा लग जाता है। जांच से पहले ही मुझे आरोपी बना दिया गया। मेरी रोज़ी-रोटी पर असर पड़ा है तो क्या मैं विक्टिम नहीं हूं? दिल्ली में रहने वाले मेरे बूढ़े पिता और मेरी बेटी दोनों ने सोसायटी को कैसे फेस किया होगा। ये कोई नहीं सोचता।

30 लोगों के सामने विजय ने मांगी थी माफी
यह पूरी घटना 30 लोगों के बीच हुई जो सेट पर मौजूद थे। चश्मदीद ने बताया- वह लड़की बैठी हुई थी, जब विजय ने उसका अटेंशन पाने के लिए उसका हाथ पकड़ा। इस वजह से उसने आपा खो दिया। वैसे भी वर्क प्लेस पर किसी फीमेल कलीग से व्यवहार करने का यह सही ढंग नहीं। विजय समझ गए थे कि उनसे गलती हुई है और उन्होंने उस लड़की से तुरंत माफी भी मांगी, लेकिन वह काफी उदास थी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Vijay Raaz broke his silence On Molestation Row- My livelihood affected then Am I not victim


from Dainik Bhaskar
via

Share with your friends

Add your opinion
Disqus comments
Notification
This is just an example, you can fill it later with your own note.
Done