'सांड की आंख' की प्रोड्यूसर निधि ने लॉकडाउन में डोनेट किया 42 ली. ब्रेस्ट मिल्क, फरवरी में दिया था बेटे को जन्म - ucnews.in

गुरुवार, 19 नवंबर 2020

'सांड की आंख' की प्रोड्यूसर निधि ने लॉकडाउन में डोनेट किया 42 ली. ब्रेस्ट मिल्क, फरवरी में दिया था बेटे को जन्म

लॉकडाउन के दौरान पैसे, राशन, फूड पैकेट्स, मास्क और पीपीई किट जैसी चीजें तो कई बॉलीवुड सेलेब्स ने दान की। लेकिन एक ऐसी बॉलीवुड सेलेब्रिटी भी है, जिसने नवजातों को बचाने के लिए लगभग 42 लेटर ब्रेस्ट मिल्क डोनेट किया। हम बात कर रहे हैं तापसी पन्नू और भूमि पेडणेकर स्टारर फिल्म 'सांड की आंख' की प्रोड्यूसर निधि परमार हीरानंदानी की। 41 साल की निधि ने एक इंटरव्यू में अपने इस डोनेशन के बारे में बताया।

फरवरी में बेटे की मां बनीं निधि

इसी साल फरवरी में निधि ने बेटे को जन्म दिया। उनकी मानें तो बेटे को दूध पिलाने के बाद उन्हें महसूस हुआ कि ढेर सारा दूध बर्बाद हो रहा है। क्योंकि बेटा पूरा दूध नहीं पी रहा था। द बेटर इंडिया से बातचीत में वे कहती हैं- मैंने इंटरनेट पर पढ़ा था कि अगर रेफ्रीजरेटर में सही से स्टोर किया जाए तो ब्रेस्ट मिल्क की तीन से चार महीने की शेल्फ लाइफ होती है।

दोस्तों के सुझाव पसंद नहीं आए

निधि आगे कहती हैं, "इंटरनेट पर इसका फेस पैक बनाने की सलाह दी गई। मेरे कुछ दोस्तों ने बताया कि वे इसका इस्तेमाल अपने बच्चों को नहलाने और यहां तक कि अपने पैर रगड़ने तक के लिए करते हैं। चूंकि मुझे लगा कि यह दूध की बर्बादी होगी। मैं इसे सैलून में नहीं देना चाहती थी। इसलिए मैंने यह पता लगाने की कोशिश की कि इसे डोनेट कहां किया जा सकता है।"

गायनोकॉलोजिस्ट ने दी सही सलाह

निधि बताती हैं, "मैंने बांद्रा के एक महिला अस्पताल में अपनी गायनोकॉलोजिस्ट से संपर्क किया और उन्होंने सलाह दी कि मैं इसे सूर्या अस्पताल में दान कर सकती हूं। तब तक मेरे पास 150 एमएल के 20 पैकेट थे। लेकिन लॉकडाउन के दौरान बाहर निकलने में चिंता होने लगी, क्योंकि घर में छोटा बच्चा था। हालांकि, अस्पताल काफी अच्छा था। उन्होंने मेरे घर से जीरो कॉन्टैक्ट के पिक-अप सुविधा दी।"

एक साल तक करना चाहती हैं डोनेट

रिपोर्ट की मानें तो सूर्या अस्पताल 2019 से ब्रेस्ट मिल्क बैंक चला रहा है। निधि के मुताबिक, वे यह देखने अस्पताल भी पहुंची थीं कि ब्रेस्ट मिल्क बैंक कैसे काम करता है। उन्होंने वहां ऐसे करीब 60 बच्चे देखे, जिन्हें इसकी जरूरत थी। इनमें से कई प्री -मेच्योर थे और उनका वजन भी कम था। निधि की मानें तो वे पूरे एक साल तक ब्रेस्ट मिल्क डोनेट करने की कोशिश करेंगी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Nidhi Parmar Hiranandani the producer of 'Saand Ki Aankh' Donates 42 litres breast milk during lockdown


from Dainik Bhaskar
via

Share with your friends

Add your opinion
Disqus comments
Notification
This is just an example, you can fill it later with your own note.
Done